ग्वालनाडा के पशुधन बाड़े में आग लगी गाय झुलसी उपचार के लिए गोचिकित्सा भेजा

ग्वालनाडा के पशुधन बाड़े में आग लगी गाय झुलसी उपचार के लिए गोचिकित्सा भेजा

-- मदनसिंह के राजपुरोहित

जोधपुर : कामधेनु सेना के जोधपुर जिला सचिव अशोक राणेजा ने बताया कि ग्वालनाडा के पशुधन बाड़े में आग लगीI ग्वाल नाडा निवासी पर्वत सिंह सिसोदिया के पशुबाड़े में गायों के लिए पशु और पका रहे थे ऐसे में तेज हवा के कारण आज से निकली चिंगारी ने हवा में आंधी के कारण पास में बने छपरा में आग पकड़ ली व विकराल रूप ले लिया थोड़ी ही देर में पशुबाड़े के छपरा के साथ छपरा में बंधी गौ माता आग की चपेट में आ गई गनीमत रही कि आसपास के दौड़ कर आए लोगों ने रस्सी काट कर गौमाता को बचाया व आग पर पानी डालकर आग पर काबू पाया, जब जब देखा कि गौ माता बहुत ज्यादा जल गई है ग्वाल नाडा निवासी पांचाराम पंचारिया ने कामधेनु सेना के जोधपुर जिला सचिव अशोक राणेजा से दूरभाष के माध्यम से संपर्क कर पूर्ण जानकारी दी।

जानकारी मिलते ही कामधेनु सेना जोधपुर जिला सचिव ने वहां के कामधेनु सैनिक गोदावास ग्राम अध्यक्ष कालूराम सुथार से दूरभाष के माध्यम से बात की, एवं निजी गाड़ी किराया कर गौ माता को विश्वस्तरीय गौ चिकित्सालय रलावास उचित उपचार हेतु भेजा, कामधेनु सेना के जोधपुर जिला सचिव गौ माता के साथ विश्वस्तरीय गो चिकित्सालय पहुंचे एवं उपचार शुरू करवाया।

इस दौरान कामधेनु सेना के डोली ग्राम अध्यक्ष सोहनराम पटेल साजनराम, गंगासिंह, मनोहर मेघवाल, हनुमानसिंह,खिवसिंह, अर्जुनसिंह, भगाराम,ईश्वर सिंह कामधेनु सैनिक व ग्रामवासी उपस्थित रहे। जोधपुर जिला सचिव अशोक राणेजा ने आमजन से निवेदन किया है कि खुले में कुछ भी बनाए तो आग को  ढक कर रखें ताकि ऐसी दुर्घटना भविष्य में और देखने को नहीं मिले एवं कामधेनु सेना के जोधपुर जिला सचिव ने अनुरोध किया है कि आपके आसपास में कहीं पर भी कोई भी गोवंश या जीव बीमारी यां दुर्घटनाग्रस्त हो तो तुरंत कामधेनु सेना से संपर्क करें ताकि समय रहते उसका उपचार हो सके