केएफसी के साथ मनाया 'दिल-वाली' दिल्ली के अनोखेपन का जश्न

केएफसी के साथ मनाया 'दिल-वाली' दिल्ली के अनोखेपन का जश्न

ब्रैंड के देश भर में मौजूद ख़ास स्वाद और विकास की तरफ बढ़ते कदमों को मज़बूत करते हुए केएफसी इंडिया ने केएफसी बकेट कैनवस कैंपेन के साथ अपने 600 रेस्टोरेंट पूरे होने के ऐतिहासिक मौके का जश्न मनाया। देश भर के युवा कलाकार इस कैंपेन के लिए एक साथ आए, उन्होंने साथ मिलकर जाने-माने केएफसी बकेट को केएफसी बकेट कैनवस में बदल दिया और इस पर हर उस शहर के हिसाब से ख़ास डिज़ाइन बनाया गया, जिसमें केएफसी मौजूद है।
       
अलग-अलग शहरों की कला, आर्किटेक्चर और संस्कृति से प्रेरणा लेकर बनाए गए इन 150 लिमिटेड एडिशन डिज़ाइनों को सभी रेस्टोरेंट्स में प्रदर्शित किया गया है। केएफसी के चाहने वाले अब अपने शहर में केएफसी के साथ खुशी के इस मौके को मना सकते हैं और अपनी नज़दीकी केएफसी रेस्टेरोंट में जाकर इन डिज़ाइनों की सराहना करने के साथ ही इन्हें बनाने वाले कलाकारों और उनकी प्रेरणा के बारे में  जानकारी ले सकते हैं।

कलाकार के बारे में: गुनासीस डिज़ाइन स्ट्रेटिजिस्ट, इलस्ट्रेटर और शिक्षक हैं, जिनका काम क्रिएटिव सोल्यूशन देने और साधारण चीज़ों को खास में बदलने से जुड़ा है। उन्होंने एचआर, मुंबई से बीएमएम और एमआईसीए, अहमदाबाद से क्रिएटिव कम्युनिकेशन की पढ़ाई की है और अब वह इलस्ट्रेशन डिज़ाइन स्टूडियो चला रही हैं, जिसमें वह बच्चों, ट्रेवल व मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में उपयोगी काम कर रही हैं। क्विर्की और यूथफुल होने के साथ ही उनके स्टाइल में उद्देश्य व गहराई दिखाई देती है। वह आसानी से समझ आने वाले कार्टूनों के ज़रिए प्रचलित मान्यताओं को चुनौती देती हैं और असहज चीजों को सबके सामने रखती हैं। दून वैली में इलस्ट्रेशन डिज़ाइन स्टूडियो में पूरे किए प्रोजेक्ट्स की इनोवेटिव ब्रैंडिंग, पैकेज़िंग और एडिटोरियल प्रोजेक्ट्स में उनकी क्रिएटिव स्ट्रेटेजी स्किल नज़र आती हैं।

डिज़ाइन के बारे में: डिज़ाइन का उद्देश्य शहर की गर्मजोशी, तड़क-भड़क और दिल्ली वाले चरित्र को दिखाना है और इसमें वे सभी छोटी-छोटी चीज़ें शामिल हैं, जिन्हें देखते हुए हम बड़े हुए हैं। कबूतरों से लेकर अशोक के पेड़ों तक की छोटी-छोटी अनोखी बातें और अनोखे उच्चारण से बोले जाने वाले "भय्य्यायाया" से लेकर जाना-माना "गेड़ी टाइम" तक इसमें शामिल है, जो दिल्ली को दिल्ली बनाते हैं!

केएफसी इंडिया के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर, मोक्ष चोपड़ा ने कहा,“भारत में केएफसी का सफ़र शानदार रहा है और अब ब्रैंड 600 रेस्टोरेंट्स के साथ 150 से ज़्यादा शहरों में मौजूद है, तो इस मौके के जश्न को मनाने का देश के कोने-कोने के आए युवा कलाकारों के साथ भागीदारी करने से बेहतर क्या तरीका हो सकता है। अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए उन्हें केएफसी बकेट दी गई, जिसे उन्होंने कैनवस की तरह इस्तेमाल किया और 150 अनोखे डिज़ाइनों के ज़रिए भारत के अलग-अलग क्षेत्रों की विशेषताओं को हमारे सामने रखा। हम इन प्रतिभाओं को देखकर हतप्रभ हैं और हमें खुशी है कि हमें इस तरह की प्रतिभाओं को मंच देने का मौका मिला।