संविधान दिवस मनाया: समप्रभुता के साथ राष्ट्र निर्माण: डा. शर्मा

संविधान दिवस मनाया: समप्रभुता के साथ राष्ट्र निर्माण: डा. शर्मा
संविधान दिवस मनाया: समप्रभुता के साथ राष्ट्र निर्माण: डा. शर्मा
उदयपुर: महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौधोगिकी विश्वविद्यालय, उदयपुर के प्रशासनिक भवन स्थित संविधान पार्क में छात्र कल्याण निदेशालय के तत्वावधान में विश्वविद्यालय के कर्मचारियों एवं वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में संविधान दिवस मनाया गया।
छात्र कल्याण अधिकारी डॉं. मरतजा अली सलोदा ने सभी आगन्तुक महानुभावों का शब्द सुमन से एवं विशिष्ठ अतिथि डा. एस.के. शर्मा, निदेशक अनुसंधान एवं वित्त नियंत्रक श्री विनय भाटी का पुष्पगुच्छ भेटकर स्वागत किया।
डा. एस.के. शर्मा ने सरकार द्वारा निर्देशित विषय- ’भारत लोकतंत्र की जननी’ पर अपना व्याख्यान देकर सभी को संविधान के बारे में समझाया। उन्होने यह भी बताया की भारत का संविधान वसुधैव कुटुम्बकम के भावों को ध्यान में रखतें हुए निर्मित किया गया इसकी अपनी एक अलग विशेषता है इसी लिए भारत के लोकतंत्र को विश्व में सर्वोच्च स्थान प्राप्त है। भारत का संविधान सभी को समान अधिकार की बात करता हैं। भारत के संविधान में व्यक्ति और उसके कर्त्तव्यों के साथ कानून के प्रति हमारें उत्तरदायित्वों का भी उल्लेख किया गया हैं उन्होने कहा की हमारा संविधान समप्रभुता के साथ राष्ट्र निर्माण की बात करता है इसलिए इसें अन्य देशो के लोगो के द्वारा भी सम्मान प्राप्त हैं।
छात्र कल्याण अधिकारी डॉं. मरतजा अली सलोदा ने संविधान के 11 मूल कर्त्तव्यों का वाचन किया और उन्हें विस्तार पूर्वक समझाते हुए कहा कि यही भारतीय संविधान का आधार है जिनसे व्यक्ति और सुदृढ़ समाज का निर्माण होता है।
विश्वविद्यालय के वित्त नियंत्रक श्री विनय भाटी नें सभी पधारें हुए महानुभावों का संविधान की उद्देश्यिका की शपथ दिलाई एवं कहा कि उद्देशियका के आधार पर व्यक्ति अपनें कार्य का सम्पादन करे तो राष्ट्र की प्रगति और सम्पन्नता को सांस्कृतिक परिवेश में पुनः विश्व गुरू बनने से कोई नही रोक सकता।
समारोह में विश्वविद्यालय प्रशासनिक कार्यालय के कर्मचारी, संघटक महाविधालय के अधिष्ठाता डा. पी.के. सिंह, सी.टी.ए.ई., डा. मीनू श्रीवास्तव, सी.सी.ए.एस., डा. लोकेश गुप्ता, सी.डी.एफ.टी., डा. बी.के. शर्मा, सी.ओ.एफ., डा. बी.एल. बाहेती, डी.आर.आई., डा. महेश कोठारी, डी.पी.एम., भु सम्पति अधिकारी आदि उपस्थित रहें। 
क्रीडा मण्डल सचिव श्री सोम शेखर व्यास नें कार्यक्रम का संचालन करते हुए कहा कि संविधान के प्रति हमारी जागरूकता ही हमें राष्ट्र की विशेषताओं से अवगत करा सकती हैं कहतें हुए सभी का धन्यवाद ज्ञापित किया।