मुख्य सचिव ने की बजट घोषणाओं की क्रियान्विति की समीक्षा

मुख्य सचिव ने की बजट घोषणाओं की क्रियान्विति की समीक्षा

मुख्य सचिव ने की बजट घोषणाओं की क्रियान्विति की समीक्षा

मुख्य सचिव उषा शर्मा ने निर्देश दिये कि सभी विभाग विभिन्न बजट घोषणाओं के तहत किये जा रहे निर्माण कार्यों की त्वरित क्रियान्विति के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक निर्माण कार्य निर्धारित समय सीमा के अनुसार पूरा हो।

मुख्य सचिव गुरूवार को शासन सचिवालय में विभिन्न कार्यकारी संस्थाओं के स्तर पर लम्बित प्रकरणों एवं बजट घोषणाओं के अन्तर्गत निर्माण कार्यों के क्रियान्वयन के संबंध में आयोजित समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रही थीं।

उन्होंने अधिकारियों से कहा कि घोषणाओं की क्रियान्विति समयबद्ध तरीके से पूरा करने के लिए विभाग योजनाओं के विभिन्न चरणों के लिए माइलस्टोन तय करें और स्वयं अपने स्तर पर उनकी मॉनिटरिंग करें।

उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग, राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम, नगरीय विकास, स्कूल शिक्षा तथा स्वायत्त शासन विभाग के स्तर पर लम्बित प्रकरणों तथा बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन के बारे में प्रजेंटेशन के माध्यम से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कार्यों की प्रशासनिक तथा वित्तीय स्वीकृति से पहले भू- आवंटन सुनिश्चित किया जाना चाहिये, जिससे कार्य शुरू करने में किसी प्रकार की बाधा का सामना नहीं करना पड़े।

इस अवसर पर नगरीय विकास एवं आवासन विभाग के प्रमुख शासन सचिव कुंजी लाल मीणा, सार्वजनिक निर्माण विभाग के प्रमुख शासन सचिव नवीन महाजन तथा स्वायत्त शासन विभाग के शासन सचिव डॉ. जोगा राम उपस्थित रहे। अन्य संबंधित विभागों के अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रमुख शासन सचिव तथा शासन सचिवों ने वीसी के माध्यम से बैठक में हिस्सा लिया।