मंत्रालयिक संवर्ग में पदोन्नति के बेहतर अवसर के लिए सृजित होंगे 8400 पद

मंत्रालयिक संवर्ग में पदोन्नति के बेहतर अवसर के लिए सृजित होंगे 8400 पद

मुख्यमंत्री ने दी मंजूरी

मंत्रालयिक संवर्ग में पदोन्नति के बेहतर अवसर के लिए सृजित होंगे 8400 पद

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधीनस्थ विभागों में मंत्रालयिक संवर्ग को पदोन्नति के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के लिए सृजित पदों के पुनर्निर्धारण के प्रस्ताव को मंजूरी दी है। इस प्रस्ताव के अनुसार संस्थापन अधिकारी, प्रशासनिक अधिकारी, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी, सहायक प्रशासनिक अधिकारी, वरिष्ठ सहायक तथा कनिष्ठ सहायक के पदाें का पुनर्निधारण किया जाएगा, जिससे संस्थापन अधिकारी के 592, प्रशासनिक अधिकारी के 1674, अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी के 3249 तथा सहायक प्रशासनिक अधिकारी के 2885 पद बढ़ जाएंगे।

अधीनस्थ विभागों में मंत्रालयिक संवर्ग के कर्मचारियों के स्वीकृत पदों के पुर्नगठन हेतु संवर्ग के 300 पदों पर एक संस्थापन अधिकारी, 100 पदों पर एक प्रशासनिक अधिकारी, 20 पदों पर एक अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी तथा उपरोक्त पदों की गणना के पश्चात शेष पदों पर 1ः2ः3 के अनुपात में सहायक प्रशासनिक अधिकारी, वरिष्ठ सहायक तथा कनिष्ठ सहायक होने संबंधी नॉम्र्स निर्धारित हैं।

 

साथ ही जिन विभागों में कर्मचारियों की संख्या पर्याप्त नहीं है, उनमें भी पदों का पुनर्निर्धारण किया जाना है। इनमें विभाग में मंत्रालयिक संवर्ग में 50 से अधिक पद, परंतु 100 से कम पदों पर न्यूनतम एक संस्थापन अधिकारी, विभाग में 25 से अधिक पदों पर न्यूनतम एक प्रशासनिक अधिकारी तथा प्रत्येक विभाग में न्यूनतम एक अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी का पद पुनर्निर्धारित किया जाना है। 

उल्लेखनीय है कि कर्मचारी महासंघों के द्वारा लंबे समय से मंत्रालयिक संवर्ग में वर्तमान में सृजित पदों के पुनर्निधारण की मांग की जा रही थी, ताकि मंत्रालयिक कर्मचारियों के लिए पदोन्नति के पर्याप्त अवसर उपलब्ध हो सकें।