पूर्व कैबिनेट मंत्री व विधायक हरीश चौधरी के प्रयास रंग लाये, क्षेत्र में आगामी गर्मियों को देखते हुए 19 नवीन ट्यूबबेल स्वीकृत करवाए

May 21, 2022 - 10:02
 0
पूर्व कैबिनेट मंत्री व विधायक हरीश चौधरी के प्रयास रंग लाये, क्षेत्र में आगामी गर्मियों को देखते हुए 19 नवीन ट्यूबबेल स्वीकृत करवाए

बाड़मेर/बायतु । पूर्व कैबिनेट मंत्री व स्थानीय विधायक हरीश चौधरी के प्रयासों से विधानसभा क्षेत्र बायतु में आगामी गर्मियों में पेयजल समस्या के समाधान की दिशा में योजनाओं में लगभग 4 करोड़ 91 लाख की लागत से 19 पेयजल के कार्यो की स्वीकृति मिली है। पूर्व मंत्री व विधायक हरीश चौधरी ने बताया कि क्षेत्रवासियों को पर्याप्त पेयजल आपूर्ति सुनिश्चित करवाने के प्रयास निरन्तर व उच्च स्तर पर जारी है। इसी के परिणामस्वरूप विधानसभा क्षेत्र में 19 नए ट्यूबवेल स्वीकृत हुए है जिससे आने वाले समय में ग्रामीण क्षेत्रों में ट्यूबवेलों से पेयजल समस्या से आमजन को काफी हद तक राहत मिलेगी। 

उन्होंने बताया कि विधानसभा क्षेत्र के दौरों के दौरान आई मांगो को देखते हुए निम्न पेयजल कार्यो की स्वीकृति मिली है जो इस प्रकार है-

कुंभे का तला- 16.11 लाख, लीलाला- 18.60 लाख, गौशाला (छितर का पार)- 15.08 लाख, काला नाडा- 16.08 लाख, बांक नाड़ी - 20.48 लाख, हिंगडों की ढाणी- 13.64 लाख, चुतराणियों की ढाणी (मेहराज)- 19.74 लाख, भाखरसर- 38.01 लाख, गले की ढाणी- 21.32 लाख, नेहरों व जाखड़ों की ढाणी (लाखानियों की ढाणी)- 18.78 लाख, पीरा नाडा( सांगरा नाड़ी)- 20.46 लाख, मुकनाणीयों की ढाणी (राजीव नगर)-20.24 लाख, अमराणियों की ढाणी (बड़नावा जागीर)-21.33 लाख, मेहराज की बेरी (डउकियों का तला)- 17.31 लाख, रूसिद मुला की ढाणी, (मोहनपुरा)- 21.33 लाख, समालाणियों की ढाणी(खनोड़ा)- 21.33 लाख, सारणों की बेरी( डऊकियों का तला)-18.48 लाख, सोखरों की बेरी( साजियाली रूप जी राजा बेरी)-16.70 लाख, सवाऊ पदमसिंह- 16.26 लाख।


पूर्व मंत्री चौधरी ने किया विभिन्न गांवों का दौरा, सुनी लोगों की समस्याएं
- समस्याओं की सुनवाई करते हुए अधिकारियों को त्वरित समाधान करने के निर्देश दिये।
पूर्व कैबिनेट मंत्री व बायतु विधायक हरीश चौधरी शुक्रवार को बायतु व गिड़ा तहसील क्षेत्र के छितर का पार, रतेऊ, लापुदड़ा, बायतु पनजी व सिणधरी का दौरा कर लोगों की धैर्य के साथ परिवेदनाएं सुनी एवं अधिकारियों को उनके निराकरण करने के निर्देश दिए। वहीं इस दौरान ग्रामीणों ने जगह-जगह उनका अभिनंदन किया।

दौरे के दौरान उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे आमजन की समस्याओं का निस्तारण संवेदनशील होकर प्राथमिक स्तर पर करें जिससे जनसुनवाई के दौरान उन्हें बार-बार परेशान न होना पड़े। उन्होंने जल जीवन मिशन के तहत पेयजल के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे कार्य में गति लाकर आमजन को गुणवत्तापूर्ण पेयजल पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध करवायें।