70 सुरक्षा सखियों को महिला सुरक्षा का प्रशिक्षण, निर्भया टीम से सीखे आत्मरक्षा के गुर

70 सुरक्षा सखियों को महिला सुरक्षा का प्रशिक्षण, निर्भया टीम से सीखे आत्मरक्षा के गुर

70 सुरक्षा सखियों को महिला सुरक्षा का प्रशिक्षण, निर्भया टीम से सीखे आत्मरक्षा के गुर

-सुरक्षा सखी का नजदीकी पुलिस स्टेशन में होगा रजिस्ट्रेशन

-पुलिस विभाग द्वारा आधिकारिक तौर पर फील्ड में होगी नियुक्ति

राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद (राजीविका) द्वारा गुरुवार को चौपाल ग्रामीण प्रशिक्षण संस्थान, जयपुर में सुरक्षा सखी प्रशिक्षकों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। यह प्रशिक्षण महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए पुलिस विभाग द्वारा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देशानुसार सम्पूर्ण राजस्थान में शुरू किया गया है। सुरक्षा सखी अभियान में राजीविका स्वयं सहायता समूह की महिलाओं की भागीदारी को बढ़ावा देने के लिए आयोजित इस प्रशिक्षण में सभी जिलों से दो प्रशिक्षकों ने भाग लिया। प्रशिक्षण में निर्भया स्क्वाड टीम की राज्य लीडर श्रीमती सुनिता मीना, एडिशनल डीसीपी जयपुर एवं सब इन्सपेक्टर सुनिता चौधरी टीम ने मार्गदर्शन प्रदान किया। कार्यशाला में कुल 70 प्रतिभागी शामिल हुए। प्रतिभागियों मैं हर जिले से एक मास्टर ट्रेनर और एक नोडल अधिकारी शामिल हुए।

प्रशिक्षण में प्रतिभागियों को बताया गया कि समाज में महिलाओं और बालिकाओं पर हो रहे अत्याचार और अपराधों के विरूद्ध समाज की ही जागरूक महिला को पुलिस विभाग और आमजन के बीच की एक महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में सुरक्षा सखी तैयार की जा रही हैं। सुरक्षा सखी किसी भी प्रकार की आपात स्थिति में प्रभावित महिला की मदद करेगी और संबंधित पुलिस थाने में सूचित कर कानूनी कार्यवाही में भी महिला की सहायता करेगी।

सम्पूर्ण राजस्थान में राजीविका समूह की 30000 महिलाओं को सुरक्षा सखी बनाया जा रहा है। सुरक्षा सखी का नजदीकी पुलिस स्टेशन में रजिस्ट्रेशन होगा और उसे पुलिस विभाग द्वारा आधिकारिक तौर पर फील्ड में नियुक्त किया जायेगा।

चौपाल ग्रामीण प्रशिक्षण संस्थान, जयपुर में आयोजित सुरक्षा सखी प्रशिक्षण में राजीविका मुख्यालय से राज्य परियोजना प्रबंधक (सीबी) रमणिका कौर प्रोजेक्ट मैनेजर नीरू नरूका एवं लोकेश धाकड़ ने प्रतिभागियों का मार्गदर्शन किया। निर्भया टीम के सदस्यों ने महिलाओं को आत्मरक्षा के करने के गुण सिखाये।