मरुस्थलीयकरण सूखा रोकाथाम दिवस पर पौधारोपण कार्यक्रम

राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (PHC) पूनिया कि प्याऊ में पोधरोपण कार्यक्रम आयोजित किया पर्यावरण प्रेमी बालाराम बेनिवाल अनोप भाम्बु ने बताया कि मरुस्थलीकरण व सूखा की समस्या को रोकने के लिए हमें कुछ उपायों को अपनाने पर ध्यान देना होगा। सबसे पहले तो हमें धरती की वन सम्पदा का संरक्षण करना होगा और वृक्षों को काटे जाने से रोकना होगा। रिक्त भूमि पर, पार्कों में सड़कों के किनारे, खेतों की मेड़ों पर वृक्षारोपण करना होगा। मरुभूमि में जलवायु अनुकूल पौधों-वृक्षों को उगाना होगा। जल संसाधनों का संरक्षण तथा समुचित मात्रा में विवेकपूर्ण उपयोग करना होगा। कृषि में शुष्क कृषि प्रणालियों का विवेकता से प्रयोग करना होगा। मरुभूमि की लवणता व क्षारीयता को कम करने के लिए वैज्ञानिक उपाय करने होंगे। पशु-चरागाहों पर उचित मानवीय नियंत्रण स्थापित करना होगा। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वतः उत्पन्न होने वाली अनियोजित वनस्पति की कटाई को नियंत्रित करने के उपाय करने होंगे।

मरुस्थलीकरण व सूखा से मुकाबला के लिए विश्व दिवस, वैश्विक स्तर पर जन-जागरूकता फैलाने का ऐसा प्रयास है जिसमें अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सहयोग की अपेक्षा की जाती है। विश्व बंधुत्व की भावना के साथ इसमें भागीदारी सुनिश्चित करना धरती तथा पर्यावरण को बचाने में एक सार्थक प्रयास हो सकता है। आज मरूस्थल को सुखा हटाना के लिए पेड़ पोधा लगाये ।इस अवसर पर ग्राम पंचायत हेमनगर पुनिया कि प्याऊ सरपंच प्रतिनिधि राजकुमार मेघवाल , ग्राम पंचायत जोलियाली सरपंच पांचाराम बिश्नोई डॉक्टर हंसराज राजपुरोहित, ग्राम विकास अधिकारी अनिल कुमार , डॉक्टर धर्मेंद्र पिलानिया, शिव सिंह , बिरम मदन मुकेश दिनेश प्रकाश विजय मालाराम बीरबल ताड़ी संजय ताड़ी आदि ने भाग लियाc


सांगरी टुडे हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें