जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंड़िया ने घोषित की सलाहकार समिति

जैसलमेर - पत्रकारों की समस्याओ को पुरजोर तरीके से उठाने बाले गैर मान्यता प्राप्त पत्रकारों के संगठन जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंड़िया ने आज अपनी सलाहकार समिति की घोषणा की। इस समिति में संगठन ने वरिष्ठ पत्रकारों को स्थान दिया। जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंड़िया के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शादाब आब्दी की अनुशंसा पर राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुराग सक्सेना ने अन्य पदाधिकारियों से विचार-विमर्श के बाद एक सलाहकार कमेटी का गठन करने का निर्णय लिया।जिसमे विभिन्न राज्यों के वरिष्ठ पत्रकारों को शामिल किया गया। इस समिति मे डॉ ए के राय जी उत्तर प्रदेश से वरिष्ठ पत्रकार- दैनिक स्वतंत्र जनमित्र, डॉ आर सी श्रीवास्तव उत्तर प्रदेश से संपादक- दैनिक यूनिवर्स टाइम, अंकित गुप्ता उत्तर प्रदेश से संपादक- दैनिक मेरठ दर्पण, नीरज राज सक्सेना उत्तर प्रदेश से संपादक- दैनिक राय मोर्चा, नसीर अली उत्तर प्रदेश से कार्यकारी संपादक- दैनिक परिधि, अखलाक अहमद उत्तर प्रदेश से संपादक- बेबाक भारत टुडे, लोकेश दत्त मेहता हरियाणा से संपादक- उभरता हरियाणा, स्वतंत्र वरिष्ठ पत्रकार राजू चारण बाड़मेर राजस्थान से पत्रकार- देनिक जलते दीप,तरूण मित्र ठाणे मुम्बई, हरी शंकर पाराशर मध्य प्रदेश से वरिष्ठ पत्रकार- दैनिक राष्ट्रीय जजमेंट, अशोक कुमार झा झारखंड से पीएसए लाइव न्यूज, सतपाल सोनी पंजाब से संपादक- चढ़त पंजाब दी,राजकुमारी पंजाब से संपादक- कानूनी राहें व विशाल शर्मा पंजाब से संपादक- विशाल केसरी को स्थान दिया गया है। जर्नलिस्ट काउंसिल ऑफ इंड़िया संगठन ने अपनी इस कमेटी से आशा की है कि वह पत्रकारों की समस्याओ व उनके निस्तारण के लिए अपने सुझावों से हमेशा संगठन को अवगत कराती रहेगी और सभी पत्रकारों के साथ बिना भेदभाव कंधे से कंधा मिलाकर चलती रहेगी। इस अवसर पर संगठन के अध्यक्ष अनुराग सक्सेना ने कहा कि जल्द ही इस समिति मे अन्य राज्यों के वरिष्ठ पत्रकारों को भी स्थान दिया जायेगा।जिससे देश भर से विभिन्न राज्यों के पत्रकारों की समस्याओ की भी जानकारी समय समय पर मिलती है और संगठन द्वारा उनके निराकरण का प्रयास किया जा सके। उन्होने बताया कि अभी तक संगठन से किसी न किसी माध्यम से लगभग बीस बाइस राज्यों के पत्रकार साथी जुड़ चुके है।संगठन का लक्ष्य सभी पत्रकारों को पत्रकारिता करने में होने वाली परेशानियों का समाधान करने के लिए एकजुट करना है।

सांगरी टुडे हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें