केकड़ी में चिकित्सा सुविधा सशक्तिकरण के लिए 31.30 करोड़ की सौगात

केकड़ी में चिकित्सा सुविधा सशक्तिकरण के लिए 31.30 करोड़ की सौगात

चिकित्सा मंत्री ने किए जिला अस्पताल में लोकार्पण व शिलान्यास

20 करोड़ की लागत से हुआ अस्पताल विस्तार और उपकरणो का काम

ऑक्सीजन प्लांट, ट्रोमा सेंटर और अन्य सुविधाओं की भी शुरुआत

चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने चिकित्सा सुविधाओं का विस्तार कर केकड़ी क्षेत्र को बड़ी सौगात दी है। उन्होंने आज केकड़ी अस्पताल में 31.30 करोड़ से अधिक राशि के विकास कायोर्ं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। इन सुविधाओं से केकड़ी सहित आसपास के जिलों व उपखण्डों के 100 किलोमीटर दायरे में रहने वाले लाखों लोगों को राहत मिलेगी। उन्हें जयपुर, अजमेर या निजी अस्पतालों में जाने के बजाए केकड़ी में ही उपचार उपलब्ध होगा। 

डॉ. शर्मा ने रविवार को केकड़ी के जिला अस्पताल में विभिन्न सुविधाओं की शुरुआत की। उन्होंने यहां टाटा ट्रस्ट की ओर से 20 करोड़ रुपए की लागत से अस्पताल के विस्तार और उपकरणों का शुभारंभ और शिलान्यास किया। टाटा ट्रस्ट की ओर से अस्पताल में 133 बेड की एक विंग तैयार की गई जिसमें से 25 बेड का आईसीयू भी शामिल है। इन सुविधाओं के अलावा केकड़ी अस्पताल में नवीनतम चिकित्सा साधनों वाला एक आपरेशन थियेटर, गंभीर मरीजों की जान बचाने वाले उपकरणों के साथ एक एम्बुलेंस, रक्त भण्डारण सुविधा एवं सीटी स्कैन की सुविधा भी उपलब्ध करवायी गयी है। अस्पताल के सभी आईसीयू में जीवन रक्षक उपकरण जैसे कि वेंटीलेटर, बाइपेप, मॉनिटर, हार्ड फ्लो नेसल, कैनुला, डायलिसिस मशीन तथा निदान के साधन उपलब्ध करवाए गए हैं। इसी के साथ लेबोरेटरी, रेडिओलोजी (एक्स रे), इकोकार्डिओग्राफी एवं अल्ट्रासॉउण्ड मशीन की उपलब्धता भी सुनिश्चित की गई है। अस्पताल के हर पलंग तक ऑक्सीजन एवं अन्य मेडिकल गैस की पाइपलाइन भी डाली गई है। अस्पताल के मरीज सुदूर के विशेषज्ञों की सलाह ले सके इसके लिए टेलीमेडिसिन सेण्टर भी विकसित किया गया है ।

ऑक्सीजन आत्मनिर्भर होगा अस्पताल

चिकित्सा मंत्री ने अस्पताल में दो ऑक्सीजन प्लांट का भी शिलान्यास किया। इन प्लांटों का निर्माण जल्द पूरा करवाया जाएगा। इनके पूरा होते ही अस्पताल ऑक्सीजन आवश्यकता को स्थानीय स्तर पर ही पूरा कर लेगा। इन प्लांटों की लागत 1.19 करोड़ और 65 लाख है।

कोरोना की तीसरी लहर से बचाव की तैयारी

डॉ. रघु शर्मा ने 4.87 करोड़ की लागत से अस्पताल में आरटीपीसीआर लैब की सौगात दी। इससे कोरोना टेस्टिंग के लिए सैंपल अजमेर नहीं भेजने पड़ेंगे।

ट्रोमा सेंटर, आवास और सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट

डॉ. शर्मा ने चिकित्सालय में 2.90 करोड़ की लागत से ट्रोमा सेंटर, 84 लाख की लागत से आवास और 86 लाख की एसटीपी की भी सौगात दी।



सांगरी टुडे हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें