टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर की समस्याओं का हो उचित समाधान

राष्ट्रीय ब्रॉडबैंड अभियान के तहत राज्य स्तरीय ब्रॉडबैंड समिति की बैठक
टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर की समस्याओं का हो उचित समाधान -मुख्य सचिव

मुख्य सचिव श्री निरन्जन आर्य ने कहा कि सूचना तकनीक के प्रभावी उपयोग को सुनिश्चित करने के लिए टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स की समस्याओं का उचित समाधान किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजस्थान देश का सबसे बड़ा भौगोलिक क्षेत्रफल वाला राज्य है ऎसे में प्रदेश में संचार सुविधाओं का प्रभावी प्रसार किया जाना चाहिए। 

मुख्य सचिव मंगलवार को शासन सचिवालय में राष्ट्रीय ब्रॉडबैंड अभियान के तहत राज्य में ब्रॉडबैंड अभियान के प्रभावी क्रियान्वयन और प्रसार के लिए राज्य स्तरीय ब्रॉडबैंड समिति की बैठक की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से अध्यक्षता कर रहे थे। 

श्री आर्य ने कहा कि राज्य में मोबाइल टॉवर की संख्या बढ़ाने के लिए लोगों में मोबाइल रेडिएशन के प्रति भ्रांति को लेेकर जागरूकता लाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि टॉवर लगाने में विभिन्न विभागों के पास लंबित प्रकरणों को जल्दी निपटाया जाए ताकि प्रदेश में टेलीकॉम इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत किया जा सके। श्री आर्य ने टेलीकॉम सर्विस प्रोवाइडर्स द्वारा प्रदत यूजर चार्जेस का भी पुनर्निधारण करने का सुझाव दिया।

बैठक में सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री आलोक गुप्ता ने बताया कि राज्य में करीब 6 करोड़ मोबाइल उपभोक्ता हैं। लेकिन भौगोलिक दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य होने पर भी मोबाइल टॉवर की संख्या कम है अतः मोबाइल रेडिएशन के प्रति लोगों के नकारात्मक नजरिए को दूर कर बेहतरीन टेलीकॉम सुविधाएं लोगों को दी जा सकती है। 

बैठक में प्रमुख शासन सचिव वन एवं पर्यावरण विभाग श्रीमती श्रेया गुहा, प्रमुख शासन सचिव राजस्व विभाग श्री आनंद कुमार, प्रमुख शासन सचिव नगरीय विकास विभाग श्री कुंजी लाल मीणा, शासन सचिव स्वायत्त शासन विभाग श्री भवानी सिंह देथा सहित विभिन्न टेलीकॉम कंपनियों के प्रतिनिधि, टॉवर एण्ड इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधि, सैल्यूलर ऑपरेटर एसोसिएशन ऑफ इंडिया के प्रतिनिधि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थित हुए। 


सांगरी टुडे हिंदी न्यूज़ के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और टेलीग्राम पर जुड़ें .
लेटेस्ट वीडियो के लिए हमारे YOUTUBEचैनल को विजिट करें